Website title

Proposal Submission Procedure

An individual or group(s) of scientists / faculty members affiliated to any academic institution/autonomous R&D institutions may submit proposals. Faculty of STCs and RAC-S established at various IITs/NITs; IISc and SPPU can select and generate proposals from SCL Research Areas-2021 document. Faculty of the academic institutions/R&D labs other than STCs and RAC-S can select and generate proposals from Respond Basket. The Principal Investigator(s) should be full-time employee(s) of the concerned institution. The age limit for the Principal Investigator should be below 65 years (sixty five) including the project period. The Head of the academic institution must forward proposals with application for research grants. Proposals from individuals not affiliated to any recognized institution will not be considered.

Each proposal must name a Principal Investigator who is a domain expert in the area to which the proposal belongs and who is a full time employee/faculty of the institution forwarding the application. There may also be co-investigator(s) from the same/different institutions working on the project. But satisfactory completion of a project will be the responsibility of the Principal Investigator and her/his institution. Each proposal should provide the following information:

  • Detailed bio-data of all the investigators (Age also to be indicated) including publications/awards & recognition received.
  • Contact details: address, email id, telephone/fax numbers of investigators and head of the institution forwarding the proposal.
  • Brief description of the research proposed including the objectives and the scientific/application merits of the work.
  • Description of the research methodology or technique to be used for the proposed projected.
  • The extent of financial support needed from ISRO for executing the work within the shortest possible time.
  • A list of research projects related to the proposal undertaken or carried out through funding by other Agencies.
  • Name and address of the Scientist/Engineer of ISRO with whom the PI had co-ordinated.

Two copies of the proposal on standard A4 size paper (297mm X 210mm) should be prepared in the format. Please note that all the Forms - "Form-A", "Form-B", "Form-C" and the "Application for Grant of Funds" needs to be filled appropriately. (Fillable PDF Forms can be downloaded from 'Download Forms' Section)

One hard copy and a soft copy of the proposal in the areas of Semiconductors and MEMS should be sent to following address :

Director Semi-Conductor Laboratory,
Sector - 72,
SAS Nagar 160071 (Near Chandigarh),
Punjab e-mail : director@scl.gov.in

One hard copy and a soft copy of the proposal must be sent to:

Director Capacity Building Programme Office (CBPO),
ISRO Head Quarters, Department of Space,
Antariksh Bhavan,
New BEL Road,
Bangalore - 560 094 e-mail : respond@isro.gov.in

Proposals will be evaluated by domain experts (internal and/or external) for its novelty, usefulness to Indian Space Programme and other Scientific/ technical merits. The proposal may call for changes based on review and the PI will have to re-submit the proposal incorporating the recommended changes. Proposers are informed about the outcome of the evaluation of their research proposals.

प्रस्ताव प्रस्तुत करने की प्रक्रिया

किसी भी शैक्षणिक संस्थान से संबद्ध संकाय के सदस्य/ स्वायत्तशासी अनुसंधान एवं विकास (आरएण्डडी) संस्थान व्यक्तिगत या वैज्ञानिकों का समूह प्रस्तावों को प्रस्तुत कर सकते हैं। विभिन्न आईआईटी / एनआईटी; आईआईएससी एवं एसपीपीयू में स्थापित एसटीसी और आरएसी-एस के संकाय एससीएल अनुसंधान क्षेत्र -2021 दस्तावेज से प्रस्तावों को चयन और उनको जारी कर सकते हैं। एसटीसी और आरएसी-एस के अलावा शैक्षणिक संस्थानों/आरएण्डडी प्रयोगशालाओं के संकाय सदस्य रेसपॉन्ड बास्केट से प्रस्तावों को चयन और उनको जारी कर सकते हैं। प्रधान अनुसंधाता (पीआई) संबंधित संस्था न का पूर्णकालिक कर्मचारी होना चाहिए। प्रधान अनुसंधाता (पीआई) की आयु सीमा परियोजना अवधि को मिलाकर 65 वर्ष से कम होनी चाहिए। शैक्षणिक संस्थाआन के प्रधान द्वारा प्रस्तािवों को अनुसंधान अनुदान के लिए आवेदन पत्र के साथ प्रस्तुत करना चाहिए। मान्येता प्राप्ता संस्थातनों से असंबद्ध व्यकक्तियों के प्रस्तावों पर विचार नहीं किया जाएगा।

प्रत्ये क प्रस्तााव में ऐसे मुख्य अनुसंधाता का नाम होना चाहिए, जो प्रस्तामवित विषय का विशेषज्ञ तथा आवेदन अग्रेषित करने वाले संस्थाान का पूर्णकालिक कर्मचारी/संकाय सदस्य हो। उक्त परियोजना पर उसी/भिन्ना संस्थाथनों के सह-अनुसंधाता भी काम कर सकते हैं। लेकिन परियोजना का संतोषपूर्ण पूरा होना मुख्य अनुसंधाता तथा उसका/उसकी संस्थान का उत्तरदायित्व होगा। प्रत्येषक प्रस्तानव में निम्ना सूचनाओं का उल्लेतख होना चाहिए:

  • अनुसंधाताओं के जीवनवृत्त/ की विस्तृत जानकारी (जिसमें जन्म् तिथि भी उल्लेखित हो) के साथ-साथ प्रकाशनों/पुरस्कासरों तथा सम्माओनों का उल्ले्ख हो।
  • संपर्क ब्यौरा - अनुसंधाताओं तथा प्रस्तामव अग्रेषित करने वाले संस्थाेन के प्रमुख का पता, ई-मेल आईडी, दूरभाष/फैक्सथ नंबर।
  • अनुसंधान प्रस्ता,व तथा उसके उद्देश्यथ व कार्य के वैज्ञानिक/अनुप्रयुक्तप उपयोगिता का संक्षिप्तध विवरण।
  • प्रस्तानवित परियोजना में प्रयुक्त् अनुसंधान पद्धति या तकनीक का वर्णन।
  • न्यूहनतम संभव समय के अंदर कार्य को संपादित करने के लिए इसरो द्वारा मांगी जा रही आर्थिक सहायता की राशि।
  • आवेदित प्रस्तानव से संबंधित उन अनुसंधान परियोजनाओं की सूची जिन्हेंइ अन्यी एजे‍न्सियों द्वारा संचालित या निधि पोषित किया जा रहा हो।
  • इसरो के उन वैज्ञानिकों/इंजीनियरों के नाम व पते, जिनके साथ मुख्य अनुसंधाता ने समन्वय किया है।

फार्मेट में मानक ए-4 आकार (297 मि.मी. X 210 मि.मी) के कागज पर प्रस्ताव की दो प्रतिलिपियां तैयार करनी चाहिए। कृपया ध्याआन दें कि सभी प्रपत्रों - ''प्रपत्र-ए'' ''प्रपत्र-बी'' ''प्रपत्र-सी'' और ''निधियों के अनुदान हेतु आवेदन'' को उचित रूप से भरना चाहिए।

सेमी-कंडक्टर्स एवं मेम्स के क्षेत्रों में प्रस्ताव की एक हार्ड कॉपी और एक सॉफ्ट कॉपी निम्नलिखित पते पर भेजी जानी चाहिए:

निदेशक सेमी-कंडक्टर लेबोरेटरी,
सेक्टर – 72,
सा.अ.सिं. नगर 160071 (चंडीगढ़ के समीप),
पंजाब ई-मेल : director@scl.gov.in

प्रस्ताव की एक हार्ड कॉपी और एक सॉफ्ट कॉपी निम्न को भी भेजी जानी चाहिए:

निदेशक क्षमता निर्माण कार्यक्रम कार्यालय (सीबीपीओ),
इसरो मुख्यालय, अंतरिक्ष विभाग,
अंतरिक्ष भवन,
न्यू बी ई एल रोड,
बैंगलूर - 560 094 ई-मेल : respond@isro.gov.in

प्रस्तावों की नवीनता, भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम में उसकी उपयोगिता और अन्य वैज्ञानिक/तकनीकी योग्यताओं के आधार पर उस क्षेत्र के विशेषज्ञों (आंतरिक और/या बाहरी) द्वारा इसका मूल्यांकन किया जाएगा। समीक्षा के आधार पर प्रस्ता्व में परिवर्तन तथा मुख्य अनुसंधाता को अनुशंसित परिवर्तनों के साथ नया प्रस्तााव प्रस्तु्त करने को कहा जा सकता है। प्रस्ताावकों को उनके अनुसंधान प्रस्तावों के मूल्यांकन के परिणाम की सूचना दी जाएगी।