Website title

About RESPOND at SCL

RESPOND is a sponsored research program of Indian Space Research Organization (ISRO) whose main objective is to encourage academia to participate and contribute in various Space related research activities. Under RESPOND, projects are taken up by Universities/Academic Institutions in the areas of relevance to Space Programme. This is the flagship programme of ISRO to promote the extra-mural research in emerging areas of Space at Academia.

Based on the mandate by ISRO, SCL offers Sponsored Research Programmes in the areas of Microelectronics pertaining to Design and Fabrication activities of Semiconductors & MEMS. The research proposals received from academia for consideration under RESPOND are accepted for taking up research along with appropriate technical and financial support, only after thorough review of proposals. In special cases research and development projects proposed by non-academic R & D laboratories can also be supported through this programme. The programme helps these institutions to stablish the necessary technical facilities and also provide fellowships to researchers to work on cutting edge research topics.

RESPOND programme is mutually beneficial to ISRO and Academia, wherein the rich talent of Academia/ faculty is being harnessed to support the Nation’s Space programme.

Home Page picture

एससीएल में प्रयोजित अनुसंधान (रेसपॉन्ड)

रेसपॉन्ड भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का एक प्रायोजित अनुसंधान कार्यक्रम है जिसका मुख्य उद्देश्य शैक्षणिकता को विविध अंतरिक्ष संबंधी अनुसंधान गतिविधियों में भाग लेने तथा योगदान देने हेतु प्रोत्साहित करना है। रेसपॉन्ड के अंतर्गत, अंतरिक्ष कार्यक्रम से संबंधित क्षेत्रों में विश्वविद्यालयों/शैक्षणिक संस्थानों द्वारा परियोजनाएं आरंभ की जाती है। अकादमिक स्तर पर अंतरिक्ष के उभरते क्षेत्रों में अतिरिक्त-शैक्षिक अनुसंधान को आगे बढ़ाने के लिए यह इसरो का फ्लैगशिप कार्यक्रम है।

इसरो के आदेश के आधार पर, माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में सेमीकंडक्टर्स एवं मैम्स की अभिकल्पना एवं संविरचना संबंधित गतिविधियों हेतु एससीएल, प्रायोजित अनुसंधान कार्यक्रम प्रस्तावित करता है। रेस्पॉन्ड के अधीन प्रायोजन के लिए अकादमी से प्राप्त अनुसंधान प्रस्तावों को उपयुक्त तकनीकी एवं आर्थिक सहायता के साथ, प्रस्तावों की पूर्ण समीक्षा के बाद ही अनुसंधान के लिए स्वीकृत किया जाता है। विशेष मामलों में गैर-शैक्षणिक अनुसंधान एवं विकास (आरएण्ड डी) संबंधी प्रयोगशालाओं द्वारा प्रस्तावित परियोजनाओं को भी इस कार्यक्रम के माध्यम से सहायता दी जा सकती है। यह कार्यक्रम आवश्यक तकनीकी सुविधाओं को स्थापित करने में इन संस्थानों की मदद करता है और नए अनुसंधान विषयों पर कार्य करने के लिए शोधार्थियों हेतु फैलोशिप भी उपलब्ध कराता है।

रेसपॉन्ड कार्यक्रम इसरो एवं शैक्षणिक संस्थान के आपसी लाभ के लिए है, जिसमें अकादमी/फैकल्टी की उच्च प्रतिभा को देश के अंतरिक्ष कार्यक्रम की सहायता हेतु उपयोग में लिया जा रहा है।

Home Page picture